बैंककर्मियों का तीन वर्षो से लम्बित वेतन समझौता न किये जाने के विरोध में विशाल प्रदर्शन


31 जनवरी एवं 1 फरवरी को देशव्यापी बैंक हड़ताल
लखनऊ। यूनाइटेड फोरम आफ बैंक यूनियन्स के बैनर तलेयं पंजाब नेशनल बैंक, अशोक मार्ग में विभिन्न बैंकों के सैकड़ो बैंककर्मियों ने पिछले तीन वर्षो से लम्बित वेतन समझौता न किये जाने के विरोध में विशाल प्रदर्शन एवं सभा की। सभा को सम्बोधित करते हुये यू.एफ.बी.यू. के प्रांतीय संयोजक काम0 वाई.के.अरोड़ा ने कहा कि ’’भारतीय बैंक संघ व भारत सरकार बैंककर्मियों के वेतन समझौते व अन्य मांगो को लटकाये हुुये है जिसे अब हम सहन नहीं करेंगे।’’
एन.सी.बी.ई. तथा एस.बी.आई.स्टाफ एसोसियेशन के महामंत्री काम0 के.के.सिंह ने बताया कि 1 नवम्बर 2017 के बाद से ही बैंकिंग सेक्टर में कार्यरत दस लाख से भी अधिक बैंक कर्मचारी एवं अधिकारी अपनी पाॅच वर्ष बाद होने वाली वेतन वृद्धि के लिये निरन्तर प्रयासरत हैं परन्तु अभी तक आईबीए का रवैया उदासीन ही रहा है अतः हम विवश होकर अभी दो दिवसीय हड़ताल पर जा रहे हैं।
आयबाॅक के प्रदेश महामंत्री काम0 दिलीप चाौहान ने बताया कि बड़े ऋणों की स्वीकृत एवं देख-रेख के अभाव में एन.पी.ए. होने के कारण लाभ के एक बड़े भाग को रिजर्व फंड में ट्रांसफर करके बैंकों को घाटे में दिखाया जा रहा है इसी बहाने से बैंककर्मियों की वेतनवृद्धि मे अड़ंगेबाजी की जा रही है। ज्ञातव्य है कि गतवर्ष एक दिवसीय तथा दो दिवसीय हड़ताल की जा चुकी है।
काम0 पवन कुमार, महामंत्री, एसबीआई अधिकारी संघ ने कहा कि आज बैंकों के कुप्रबन्धन के चलते अनेक घोटाले उजागर हो रहे हैं, जिनकी दुहाई देकर आई.बी.ए. वेतनवृद्धि करने में टालमटोल की नीति अपना रखी है, वास्तव में बैंकों की इस स्थिति के लिये बैंककर्मी नहीं बल्कि बैंकों का उच्च प्रबन्धन एवं राजनीतिक दबाव जिम्मेदार है।
प्रदर्शन में काम0 आर.एन.शुक्ला, महामंत्री, इलाहाबाद बैंक अधिकारी संघ ने कहा कि बैंककर्मी आई.बी.ए. के इस रवैये का प्रतिउत्तर देने के लिये पूरी तरह से कमर कस चुके हैं तथा हम अपनी संगठनात्मक शक्ति के बल पर सम्मानजनक वेतन समझौता लेकर रहेंगे। सभा को सम्बोधित करते हुये एन.सी.बी.ई. के उपाध्यक्ष वी. के. सेंगर ने बैंककर्मियों से सरकार एवं आई.बी.ए. की हठधर्मिता के विरोध में संघर्ष करने का आवाह्न किया।
सभा को काम0 दिलीप चाौहान, पवन कुमार, आर.एन.शुक्ला, अनिल श्रीवास्तव, वी.के.सेंगर, वी.के.सिंह, एस.के.संगतानी, यू.पी.दुबे, डी.पी.वर्मा, राजेश शुक्ला, ललित श्रीवास्तव, दीप बाजपेयी आदि बैंक नेताओं ने भी संबोधित किया।
अंत में मीडिया प्रभारी अनिल तिवारी ने बताया कि आई.बी.ए. के अडियल रूख के चलते दो दिवसीय देशव्यापी हड़ताल 31 जनवरी एवं 1 फरवरी को आहूत की गई है दोनो दिन सभी बैंककर्मियों की सभा एवं प्रदर्शन इलाहाबाद बैंक हजरतगंज मे किया जायगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *