देश में एक समान अधिकरणों की स्थापना की आवश्यकता
-मा0 न्यायमूर्ति पंकज मित्थल

????????????????????????????????????

राज्य लोक सेवा अधिकरण का 46वां स्थापना दिवस कार्यक्रम सम्पन्न

देश में एक समान अधिकरण की स्थापना की आवश्यकता है, जिसमें एक समान प्रक्रिया और कार्यप्रणाली समान हो।
यह बात उ0प्र0 राज्य लोक सेवा अधिकरण के 46वें स्थापना दिवस के कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप संबोधित उच्च न्यायालय इलाहाबाद के मा0 न्यायमूर्ति पंकज मित्थल ने कहा इन्दिरा भवन स्थित में कही।

उन्होंने कहा कि विभिन्न अधिकरणों में लिमिटेशन एक्ट प्रभावी होने के सम्बंध में विभिन्न प्राविधान हैं, जो कि इनकी प्रक्रिया को प्रभावी करते हैं। उन्होंने न्याय प्रक्रिया में आधुनिक सूचना तकनीकी के प्रयोग पर बल दिया ताकि वादकारियों को पारदर्शी एवं त्वरित न्याय प्रदान किया जा सके। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश राज्य लोक सेवा अधिकरण लोक सेवकों/कर्मचारियों के मुकदमें त्वरित गति से निस्तारण करती है।
मा0 न्यायमूर्ति पंकज मित्थल उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि अधिकरण में लम्बित मुकदमों को शीघ्रता से निस्तारित करने पर विशेष बल दिया गया। उन्होंने कहा कि अधिकरण का मुख्य उद्देश्य लोकसेवकों के सर्विस मैटर, टर्मिनेशन मैटर, प्रमोशन मैटर, पेंशन मैटर तथा अन्य मुकदमों पर न्याय दिलाने के लिए बना है। उन्होंने राज्य सेवा अधिकरण के 46वें स्थापना दिवस के लिए अपनी शुभकामनाएं दी।
उच्च न्यायालय इलाहाबाद लखनऊ बेंच के मा0 न्यायमूर्ति सौरभ लवानिया ने अपने सम्बोधन में कहा कि उ0प्र0 राज्य लोक सेवा अधिकरण कर्मचारियों की समस्याओं से सम्बंधित मुकदमों के निस्तारण के लिए बना है। अधिकरण के गठन से कर्मचारियों की सेवा सम्बंधी समस्याओं को त्वरित गति से न्याय दिलाने में सहायता प्रदान करती है। उन्होंने स्थापना दिवस के लिए बधाई दी।
राज्य लोक सेवा अधिकरण के अध्यक्ष मा0 न्यायमूर्ति सुधीर कुमार सक्सेना ने कहा कि राज्य लोक सेवा अधिकरण लोक सेवकों के सर्विस मैटर, पेंशन मैटर, टर्मिनेशन मैटर तथा अन्य मुकदमों का निस्तारण त्वरित गति से करता है। कर्मचारियों के मुकदमों को शीघ्रता से निस्तारित होने से उनका समय एवं धन की भी बचत होती है। उन्होंने कहा कि लोक सेवा अधिकरण मा0 उच्च न्यायालय कर्मचारियों के मुकदमों सम्बंधी कार्यों का बोझ भी कम करता है। अधिकरण समय-समय पर विधि छात्रों का त्रैमासिक प्रशिक्षण भी प्रदान करता है।
इस अवसर पर राज्य लोक सेवा अधिकरण के संयुक्त निबन्धक स्वतंत्र प्रकाश ने कहा कि राज्य लोक सेवा अधिकरण कर्मचारियों के सेवा सम्बंधी समस्याओं में न्याय प्रदान करता है। यह अधिकरण अपनी पूरी क्षमता के साथ कार्य करता है।
उ0प्र0 राज्य लोक सेवा अधिकरण के सदस्य (प्रशासनिक) अनीता भटनागर जैन ने धन्यवाद ज्ञापित किया।
इस अवसर पर उपाध्यक्ष (न्या0) पाठक, उपाध्यक्ष (प्रशा0) रोहित नंदन, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी सचिव (बार) विजय शंकर पाण्डेय सहित विभागीय अधिकारी तथा वरिष्ठ प्रस्तुतकर्ता अधिकारी एवं बड़ी संख्या में अधिवक्तागण मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *