“उत्तर प्रदेश रिटेल लीडरशिप समिट

“24 फरवरी 2021 को पी एच डी हाउस गोमती नगर लखनऊ में एक का आयोजन किया।

कोविड काल में समस्याओं तथा चुनौतियों का रिटेल सेक्टर ने सबसे अधिक सामना किया है। यह बात पी एच डी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के उत्तर प्रदेश चैप्टर ने “उत्तर प्रदेश रिटेल लीडरशिप समिट में वन अवध मॉल, लखनऊ कीएग्जीक्यूटिव वाईस प्रेसिडेंट सरस्वती सिंह ने इंटरैक्टिव सत्र में कही।
उन्होंने कहा कि यह क्षेत्र सबसे ज्यादा रोजगार सृजन करने वाला क्षेत्र है इसलिए हमे अभी भी और आने वाले समय में भी कर्मचारियों एवं ग्राहकों की सुरक्षा का जरूर ध्यान रखना चाहिए। उन्होंने यह सुझाव भी दिया लोकल फॉर वोकल को बढ़ावा देने के लिए मॉल में लोकल वस्तुओं को प्रदर्शन करने के लिए भी एक विस्तृत स्थान जरूर देना चाहिए।

संदीप कोहली, पार्टनर, कोहली ब्रदर्स ने कहा अभी भी हमें को कोविड से बचने के लिए एहतियात रखने की जरूरत है और सड़क एवं फुटपाथ की स्वच्छता सरकार एवं हर एक व्यक्ति को बनाए रखना होगा जिससे बिना डर के हर एक व्यक्ति आराम से खरीददारी कर सके। उन्होंने कहा हमें सप्लाई चेन को भी बहुत मजबूत बनाना होगा क्योंकि कोविड की वजह से ग्राहकों ने अपनी खरीदारी की योजनाएं स्थगित कर दी थी और अब ग्राहक अपने योजनाओं पर फिर से कार्य करेंगे।

संजय सिन्हा, निदेशक, स्काईलाइन आर्किटेक्चरल कंसल्टेंट्स प्राइवेट लिमिटेड ने कहा जैसे कि समय जीवन का सार है और कोविड ने हमें व्यवहारिकता से परिचित कराया है। लोगों ने डिजिटलाइजेशन प्रणाली को कोविड काल की वजह से सरलता से अपना लिया है जो आज के समय की मांग है और अब हर व्यक्ति ऑनलाइन शॉपिंग तथा व्यवसाय करने में अपनी रुचि दिखा रहा है जो कि उन लोगों के लिए लाभदायक सिद्ध भी हो रहा है। फलस्वरूप रिटेल उद्योगपतियो को नई तकनीकियो (ऑनलाइन सेल्लिंग ) को अपनाने की जरुरत है।

सिद्धार्थ प्रसाद, वाईस प्रेसिडेंट और क्लस्टर बिजनेस लीडर यस बैंक ने कहा कोविड काल की वजह से ऑनलाइन खरीददारी में 50 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है और इंस्टीट्यूट, हॉस्पिटल इत्यादि सभी ऑनलाइन काम करना पसंद कर रहे हैं लेकिन एमएसएमई क्षेत्र को कोविड काल ने बहुत बुरी तरह से प्रभावित किया है। जिससे यस बैंक एमएसएमई को सरल तरीके से ऋण उपलब्ध कराकर मंदी से उभरने में सहायता कर रहा है और साथ ही साथ स्टार्टअप एवं आत्मनिर्भर भारत को बढ़ावा देने के लिए लिक्विडिटी एवं ऋण को अपनी अलग-अलग योजनाओं द्वारा लोगोंतक पंहुचा रहा है।

मुकेश बी सिंह, वरिष्ठ सलाहकार, यूपी स्टेट चैप्टर, पी एच डी चैंबर ने सभी का स्वागत करते हुए कहा कि रिटेल विक्रेताओं को सामान की कई श्रेणियों बिक्री में महत्वपूर्ण गिरावट का सामना करना पड़ रहा है तथा कोविड के कारण होने वाले व्यवधानों ने उपभोक्ता व्यवहार और वरीयताओं पर गहरा प्रभाव छोड़ा है। ग्राहक अब क्या, कहाँ और कैसे खरीदते हैं, इस पर सावधानी बरत रहे हैं। जरुरी वस्तुओ कि मांग बढ़ने कि वजह से दुनिया भर की कंपनियां आवश्यक उत्पाद बनाने के लिए कोशिश कर रही है।

अतुल श्रीवास्तव, रेजिडेंट डायरेक्टर ने सत्र को अच्छी तरह से संचालित किया। संतोश श्रीवास्तव डायरेक्टर, नीलांश ग्रुप्स ने सभी प्रतिष्ठित गणमान्य व्यक्तियों और प्रतिभागियों को इस सार्थक सत्र के लिए अपना बहुमूल्य समय देने के लिए धन्यवाद दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *