मेरठ जिलाधिकारी ने किया डूडा कार्यालय का निरीक्षण

(एनी टाइम न्यूज)

जिलाधिकारी ने एजेन्सी की जनषक्ति को दिये अपने-अपने क्षेत्रो में कार्य करने के निर्देष

पात्रो को ही मिले योजनाओ का लाभ-जिलाधिकारी

                                                                                     मेरठ (सू0वि0) 

जिलाधिकारी ने परियोजना अधिकारी जिला शहरी विकास प्राधिकरण (डूडा) के कार्यालय का निरीक्षण किया। उन्होंने वहां लाभार्थियो की वार्डवार सूची देखी तथा डीपीआर में उल्लिखित लाभार्थियो की कम्प्यूटर पर उपलब्ध डाटा व हार्ड कापी से मिलान किया। जिलाधिकारी ने वेबपाॅस कंपनी की जनषक्ति जो जियोटैगिंग व सर्वे आदि का कार्य करती है, के पूर्वानह् 11.30 बजे तक कार्यालय में ही रहने पर अपनी नाराजगी व्यक्त की तथा कहा कि वह अपने-अपने क्षेत्रो में जाकर कार्य करें। उन्होने कहा कि पात्रो को ही योजनाओ का लाभ मिले यह सुनिष्चित किया जाये।
जिलाधिकारी ने परियोजना अधिकारी डूडा के कार्यालय के निरीक्षण के दौरान पत्रावलियो को जांचा। उन्होने कहा कि जांचकर्ता अपने हस्ताक्षर के नीचे अपना नाम व पदनाम आवष्यक रूप से लिखे। उन्होने एक ही परिवार के दो लाभार्थियो का संपर्क नंबर एक ही होने के संबंध में जानकारी ली व उसमे सुधार के लिए कहा।
निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी के संज्ञान में आया कि जनपद में प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी अंतर्गत 15 हजार पात्रो को चिन्हित किया गया है, जिनमें से 11452 को प्रथम किस्त, 9942 को द्वितीय किस्त तथा 4700 को तृतीय किस्त दी जा चुकी है। 1300 लाभार्थियो को तीसरी किस्त का भुगतान जल्द करने की पत्रावली प्रक्रियाधीन है। 1300 लाभार्थियो को जल्द तृतीय किस्त का भुगतान किया जायेगा।
निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी के संज्ञान में आया कि प्रत्येक पात्र लाभार्थी को रू0 2.50 लाख तीन किस्तो में दिये जाते है। प्रथम किस्त में रू0 50 हजार, द्वितीय किस्त में रू0 1.50 लाख व तृतीय किस्त में रू0 50 हजार लाभार्थी को दिये जाते है। योजनान्तर्गत पात्रो के चयन के लिए अधिकतम वार्षिक आय रू0 03 लाख है।
इस अवसर पर परियोजना अधिकारी आषीष सिंह सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारीगण मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *