आईआईए द्वारा ऑनलाइन नेशनल सोलर कॉन्क्लेव का आयोजन 
मंत्री कौशल विकास तथा वोकेशनल ट्रेनिंग कपिल देव अग्रवाल ने कॉन्क्लेव का उद्धघाटन किया 
इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के द्वारा सोलर ऊर्जा और ई वाहन पर दो दिवसीय राष्ट्रीय कॉन्क्लेववर्चुअलमोड में शुरू किया गया इस सम्मलेन के अतिथि मंत्री कौशल विकास तथा वोकेशनल ट्रेनिंग कपिल देव अग्रवाल द्वारा सम्मेलन का उद्धघाटन किया गया 

इस अवसर पर अन्य विशिष्ट अतिथि निम्नं प्रकार से है
1.	श्री कुणाल सिल्कू आई.ए०एस० प्रबंध नेदेशक, एवं डायरेक्टर ट्रेनिंग एवं डेवलपमेंट
2.	प्रोफेसर उषा बाजपेयी जी द्य
3.	वर्लिका दुबे इस मुख्य अभियंता यू०पी०पी०सी०एल० 
4.	जयंत कृष्णा मुख्य कार्यचालक अधिकारी तथा अधियाशी अधिकारी राष्ट्रीय कौशल विकास निगम 
5.	दीपक गधिया चेयरमैन, सनराइज सी०एस०जी०प्रा०लि० वड़ोदरा द्य
6.	राघव अग्रवाल निरेशक रोटोमैग मोटर्स एंड कण्ट्रोल द्य
7.	सुरेश चन्द्र बाजपेयी नवीनकरणीय ऊर्जा एवं ऊर्जा प्रवन्धन सलाहकार द्य
राष्ट्रीय  महा सचिव अश्वनी खंडेलवाल द्वारा मुख्य अतिथि एवं विशिष्ठ अतिथियों सहित सम्मेलन में भाग लेने वाले सभी लोगो का स्वागत किया गया द्य श्री खंडेलवाल द्वारा बताया गया कि सौर ऊर्जा के लक्ष्य के अनुरूप भारत वर्ष ने उल्लेखनीय सफलता प्राप्त की है द्य यह एक प्रेरणा दायक स्थिति है चेयरमैन सोलर एनर्जी समिति आई,आई,ए तारिक हसन नकवी द्वारा सभी विशिष्ठ अतिथियों परिचय दिया गया द्य
 श्री नकवी द्वारा बताया कि वर्ष 2014 से आईआईए द्वारा सोलर समीट का आयोजन लगातार किया जा रहा है द्य वर्ष 2018 इसी राष्ट्रीय समिट के रूप में आयोजित किया गया  इस कार्यक्रम के संचालं में देश की बड़ी कंपनियों, न्च्छम्क्। के द्वारा सहयोग किया गया  देश में आज सोलर एनर्जी की आवश्यकता पर बल दिया गया 
 प्रोफेसर उषा बाजपाई द्वारा सम्मेलन को संबोधित करते हुए सभी का स्वागत किया  सरकार के द्वारा 2022 तक 175 गीगावाॅट एनर्जी के उत्पादन का लक्ष्य राखागया है इसमें से 100 गीगावाॅट सोलर एनर्जी के मद में रखा गया है सरकार इसे 250 गीगावाॅट को 2030 तक करने की योजना है द्य श्री कुनाल सिलको आईएएस प्रबंध निदेशक डायरेक्टर ट्रेनिंग एंड डेवलपमेंट द्वारा बताया गया कि सोलर सेक्टर एक नया सेक्टर है जिसमे काफी काम किया जा रहा है  सोलर एनर्जी के क्षेत्र में कोर्सेस शुरू किये गये है जिसमे लोगो को ट्रेनिंग दी जा रही है द्य सरकार इस दिशा में प्रयास कर रही है क्योंकि सोलर एनर्जी के निर्माता और प्रयोगकर्ता संलग्न लोगो को प्रॉपर ट्रेनिंग नहीं दे पा रहे है 
 
राष्ट्रीय अध्यक्ष  पंकज कुमार ने मंत्री के अतिरिक्त सभी का स्वागत किया गया  इस सम्मेलन के सफल आयोजन के लिए न्च्छम्क्। का धन्यवाद दिया द्य प्रदेश में प्रदूषण की स्थिति को देखते हुए यह सम्मेलन महत्वपूर्ण है इससे अधिक से अधिक लोग जुड़ेंगे द्य इस कार्य में जो बहार से आयत किया जाता है उसमे तकनिकी उन्नयन के जरिये हम आत्मनिर्भर  भारत की परिकल्पना को साकार करेंगे द्य डैडम् बहुत छोटे स्तर पर कार्यरत है द्य इस सम्मेलन से कौशल विकास एवं सौर ऊर्जा के विकास में डैडम् का जुड़ाव होगा तथा रोजगर के अवसर बढ़ेंगे द्य
माननीय मंत्री  ने अपने संबोधन में आईआईए का धन्यवाद किया तथा बताया कि इससे उद्यम जगत की समस्याओं को जानने व समझने का अवसर मिलता है द्य सभी विशिष्ठ अतिथियों का आभार व्यक्त करते हुए बतया कि इस सम्मेलन के माध्यम से श्रमिकों के विकास एवं प्रशिक्षित करने का कार्य सुढ़न होगा द्य अनुसूचित जाती एवं जनजाति लोगो की ट्रेनिंग के माध्यम से रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे द्य म्-टमीपबसम पर चार्जिंग इन्फ्रास्ट्रक्चर को बढ़ाएं पर बल दिया गया द्य वर्तमान में समाज में सौर ऊर्जा से चलने वाले वाहनों का प्रचालन बढ़ा है द्य हमारी वाहनों के रजिस्ट्रेशन से स्पष्ट है द्य प्रदुषण में कमी होगी तथा स्वच्छ ऊर्जा प्राप्त होगी द्य विगत वर्षो में इलेक्ट्रिक वाहनों में वृद्धि हुई है दृ
ऽ	2017-18 दृ 69,012 वाहन 
ऽ	2018-19 - 1, 43,358 वाहन
ऽ	2019-20 - 1, 67,041 वाहन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *