दिन निकलते ही मेरठ गुंजा गोलियों की गड़गड़ाहट से

सिंकदर शहजाद

मेरठ। शुक्रवार दिन निकलते ही तीन हमलावरों ने घर में घुसकर एलएलबी छात्र पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी जिनमें से आधा दर्जन से अधिक गोली छात्र के शरीर को भेद गई। फायरिंग में छात्र का छोटा भाई बच गया, जो मकान की दीवार कूद कर भाग गया। घायल छात्र को गढ़ रोड स्थित न्यूट्रिमा हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। जहां उसकी हालत गंभीर बताई गई है। पुलिस ने घटनास्थल से करीब 15 खोखे बरामद किए हैं। परिजनों से पूछताछ की है।

सुबह 5रू45 बजे उनके मकान के मुख्य गेट खुले हुए थे। इसी बीच पावली खुर्द गांव निवासी पुलिस रिकॉर्ड में दर्ज सनी काकरान पुत्र नगेंद्र अपने दो अज्ञात साथियों के साथ सीधे घर में घुस गया। घर के पिछले कमरे में कंप्यूटर पर काम कर रहे निरंकार का 27 वर्षीय बेटा एलएलबी छात्र प्रयाग चैधरी पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। गोली की आवाज और शोर सुनकर दूसरे कमरों से स्वजन बाहर आए तो हमलावरों ने दोबारा फायरिंग की। जिसमें निरंकार का छोटा बेटा मयंक बाल-बाल बच गया, जो मकान की दीवार कूदकर भागा। इस फायरिंग में निरंकार समेत उनकी पत्नी और मयंक की पत्नी भी बाल-बाल बची है। हमलावर खौफनाक वारदात को अंजाम देकर मौके से फरार हो गए।