बिजली विभाग के लिए बाधा बनी ओवर लोडिंग

  • तापमान और बिजली चोरी के बढ़ते ही ओवर लोड होने लगे ट्रांसफार्मर

तापमान बढ़ने के साथ बिजली विभाग की परेशानियों लगातार बढ़ती जा रही हैं. गर्मी के बढ़ते ही बिजली की मांग में भी तेजी से वृद्धि हो रही है जिसके चलते शहर के ट्रांसफार्मरों पर लोड बढ़ता जा रहा है और ट्रांसफार्मर ओवरलोड होकर फुंक रहे हैं. इसका खामियाजा बिजली उपभोक्ताओं को भुगतना पड़ रहा है. दिन रात की बिजली कटौती से उपभोक्ता परेशान हो रहे हैं. ऐसे में बिजली विभाग भी अब लोड के अनुसार अपनी बिजलीघरों और ट्रांसफार्मरों को दुरुस्त करने में जुट गया है. इसके तहत बिजली विभाग अब ओवर लोड रहने वाले सब स्टेशनों के क्षेत्र में अभियान चलाकर बिजली चोरी को पकडेगा और लाइन लॉस के कारणों की जांच कर उन्हें सुधारेगा.
रेड जोन में चलेगा अभियान
बिजली विभाग ने शहर के 25 सब स्टेशनों की सूची तैयार की थी. जिनमें लाइन लॉस 22.7 प्रतिशत से अधिक है. इन सब स्टेशन एरिया में बिजली चोरी और लाइन लॉस के चलते ट्रांसफार्मर ओवरलोड होकर लगातार फुंक रहे हैं. लगातार बिजली के तार ओवरलोड के कारण गर्म होकर टूट रहे इंसुलेटर फुंक रहे हैं. ऐसे में विभाग इन क्षेत्र में बिजली चोरी से लेकर लॉइन लॉस की समस्या को दूर करेगा. इसके लिए बकायदा एसडीओ स्तर की टीम बनाकर क्षेत्र में मूवमेंट शुरु कर दिया है. वहीं गत दो दिन तेज हवाओं के कारण कई क्षेत्र में बिजली के तार टूटने से भी सप्लाई बाधित रही.

बिजली चोरी से बढ़ रही डिमांड
शहर में बिजली उपभोक्ताओं के बिजली कनेक्शन लोड के हिसाब से प्रतिदिन 600 से 650 एमवीए बिजली की डिमांड रहती है. इस माह तापमान बढ़ने से इस मांग में इजाफा हो गया है. इसके चलते डिमांड बढ़कर 750 एमवीए तक पहुंच गई. लेकिन बिजली विभाग की मानें तो रेड जोन में अधिक बिजली चोरी हो रही है. ऐसे में एवरेज से ज्यादा बिजली की डिमांड हो रही है. हालत यह है कि ओवरलोड के चलते पिछले सप्ताह से लिसाड़ी रोड, लिसाड़ी गेट, विकास पुरी, नौचंदी, हापुड़ रोड, रेलवे रोड, कंकरखेड़ा, गंगानगर, पल्लवपुरम, रामलीला ग्राउंड, एमईएस, लेडीज पार्क, टॉउन हाल, शारदा रोड, सिविल लाइन, टीपी नगर आदि बिजलीघर क्षेत्रों में बिजली ट्रिपिंग लगातार बढ़ रही है.
सिटी एसई विजय पाल ने बताया कि गर्मियां बढ़ने के साथ एसी कूलर का प्रयोग बढ़ जाता है साथ ही लॉक डाउन में बिजली चोरी के खिलाफ अभियान नही चल रहा है ऐसे में चोरी की संभावनाए भी बढ़ रही है. साथ ही मौसम की गर्मी का असर ट्रांसफार्मर पर भी पड़ रहा है ट्रांसफार्मर ओवर लोड हो रहे हैं इससे कई जगह से ओवरलोड के कारण ट्रांसफार्मर फूंक रहे हैं.