श्रम विभाग है न कि श्रमिक विभाग है-उपश्रमायुक्त

सूफिया ंिहंदी
केरोबिा कारोबारियों ने एक गलत धारणा बना ली है कि श्रम विभाग सिर्फ श्रमिकों की ही सुनता है जबकि यह धारणा बिल्कुल गलत है क्योंकि श्रम विभाग श्रमिक और कारोबारियों के बीच पुल का काम करता है। यें बातें इण्डियन इण्डस्ट्रीज एसोसिएशन (आई0आई0ए0) लखनऊ चैप्टर की वर्ष 2022-23 की जनरल हाउस की बैठक के दौरान ओपन हाउस में उप श्रमायुक्त लखनऊ परिक्षेत्र ने आई0आई0ए0 भवन, विभूति खण्ड, गोमती नगर, लखनऊ मे कही।
उन्होंने बताया कि ई-श्रम कार्ड बनावा कर उद्यमी अपने श्रमिकों की मदद कर सकते है जबकि ईएसआई, बोनस पीएफ फण्ड एक भी श्रमिक के रहने पर जिम्मेदारी बनी रहती है।

उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड लखनऊ सहायक पर्यावरण अभियन्ता, ने विभाग द्वारा उद्योगों को एनओसी एवं कन्सेन्ट प्राप्त करने क े लिये निवेश मित्र के माध्यम से आवेदन कर आसानी से एनओसी एवं कन्सेन्ट प्राप्त करने की सुविधा का लाभ लेने का आग्रह किया। इसके अतिरिक्त ईटीपी एवं एसटीपी के माध्यम से जल शुद्धिकरण एवं जल संरक्षण के बारें मे भी जानकारी प्रदान की। इस बैठक मंे लखनऊ चैप्टर के 50 से अधिक उद्यमियाों ने भाग लिया।
मुख्य रूप से प्रतिभाग करने वाले पदाधिकारियों मे नेशनल सेक्रेटरी अवधेश कुमार अग्रवाल, सूर्य प्रकाश हवेलिया, नेशनल वाइस प्रेसीडेण्ट चेतन देव भल्ला, डिवीजनल चेयरमैन राजीव बंसल, चैप्टर चेयरमैन मोहित सूरी, सीनियर वाइस चेयरमैन वीरेन्द्र के0 शर्मा सेक्रेटरी मो0 सऊद, ट्रेजरर सतपाल बत्रा, वाइस चेयरमैन अभिनव कपूर सहित विभिन्न पदाधिकारी मौजूद थे।