Sat. Jul 11th, 2020

प्रवासी कामगारों को रोजगार दिलानें के लिये आई0आई0ए0 और उत्तर प्रदेश सरकार ने किया करार

 

मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश के आवास में प्रवासी कामगारों को रोजगार देने के उद्देश्य से राष्ट्रीय अध्यक्ष इण्डियन इण्डस्ट्रीज एसोसिएशन (आई0आई0ए0) पंकज कुमार और उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से प्रतिनिधि नवनीत सहगल, प्रमुख सचिव एम0एस0एम0ई0 एवं निर्यात प्रोत्साहन ने एक करार पर हस्ताक्षर किये।
इस करार के अनुसार आई0आई0ए0 उत्तर प्रदेश में स्थित सुक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों में तीन लाख प्रवासी कामगारों को नौकरियाँ दिलाने का प्रयास करेगा।
इस अवसर पर राष्ट्रीय अध्यक्ष आई0आई0ए0 पंकज कुमार ने कहा कि आई0आई0ए0 तीन लाख नौकरियाँ दिलाने के लक्ष्य की प्राप्ति के लिये प्रदेश में स्थित लगभग 90 लाख एम0एस0एम0ई0 इकाईयों से सम्पर्क कर उपलब्ध रोजगार का डाटा एकत्र किया जायेगा। यह कार्य प्रदेश में स्थित आई0आई0ए0 के सभी 40 जिला स्तरीय चैप्टरों के माध्यम से और इस कार्य के लिये आई0आई0ए0 द्वारा प्रस्तावित टास्क फोर्स जिसमे आई0आई0ए0, उत्तर प्रदेश के एम0एस0एम0ई0 विभाग, उत्तर प्रदेश उद्योग निदेशालय, उत्तर प्रदेश सेवायोजन एवं प्रशिक्षण विभाग और उत्तर प्रदेश श्रम विभाग के प्रतिनिधि शामिल होगें द्वारा किया जायेगा। अध्यक्ष आई0आई0ए0 ने यह भी प्रस्ताव रखा कि इस टास्क फोर्स का संचालन प्रमुख सचिव एम0एस0एम0ई0 एवं एक्सपोर्ट प्रमोशन उत्तर प्रदेश की अध्यक्षता में हो।
श्री कुमार ने आगे कहा कि प्रदेश में संचालित बड़े प्रोजेक्ट्स के साथ जुड़ी एम0एस0एम0ई0 एनसिलरी इकाईयों और प्रदेश में स्थापित किये जा रहे डिफेन्स काॅरीडोर में लगने वाली एम0एसए0मई0 इकाईयों में काफी मात्रा में कामगारों की आवश्यकता होगी। इस आवश्यकता को पूर्ण करने करने में भी आई0आई0ए0 सहयोग करेगा।
आई0आई0ए0 द्वारा 3 लाख नौकरियाँ दिलाने का लक्ष्य प्राप्त किया जा सकता है यदि हम सभी मिलजुल कर और तीव्रता से कार्य करेगें। करार के अनुसार प्रवासी कामगारों का डाटा आई0आई0ए0 को उत्तर प्रदेश सरकार के एम0एस0एम0ई0 विभाग द्वारा उपलब्ध कराया जायेगा। यदि उपलब्ध कामगारों की दक्षता और उपलब्ध रोजगार में कोई भिन्नता पायी जाती है तो उसके लिये आई0आई0ए0, एम0एस0एम0ई0 विभाग उत्तर प्रदेश की विभिन्न योजनाओं के अन्तर्गत डिस्ट्रीकट इण्डस्ट्रीज एन्टरप्रन्योर प्रमोशन सेन्टर के माध्यम से अल्प अवधि में प्रशिक्षण ब्रिज पाठ्यक्रम आयोजित करवाने का प्रयास करेगा।

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि प्रदेश में नये उद्योग लगाने के लिये औद्योगिक भूमि की आवश्यकता तथा वर्तमान उद्योगों को विस्तारीकरण करने के लिये भूमि उपलब्ध कराने के निर्देश यूपीसीडा को दिये है। मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि प्रदेश में अव तक 30 लाख प्रवासी कामगार आ चुके है और इस मानवशक्ति का उपयोग प्रदेश की उन्नति में किया जायेगा।

समारोह के उपरान्त राष्ट्रीय अध्यक्ष आई0आई0ए0 ने श्रममंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य, उद्योग मंत्री सतीश महाना और एम0एस0एम0ई0 मंत्री सिद्वार्थ नाथ सिंह से भी प्रदेश में स्थित एम0एस0एम0ई0 उद्योगों की अनेक समस्याओं पर वार्तालाप किया। श्रममंत्री उत्तर प्रदेश के साथ वार्ता में निर्णय लिया गया है कि आई0आई0ए0 माननीय मंत्री की अध्यक्षता में आई0आई0ए0 सदस्यों के साथ एक विडियों कांफ्रेंस का शीघ्र आयोजन करेगा जिसमें श्रम कानूनों एवं श्रम विभाग के सहयोग पर चर्चाएँ की जाएगी।
इस करार हस्ताक्षर समारोह में आई0आई0ए0 के महासचिव मनमोहन अग्रवाल, आई0आई0ए0 कार्यकारिणी के सदस्य एवं पूर्व मण्डल चेयरमैन लखनऊ श्री रजनीश सेठी, राष्ट्रीय सचिव राजीव बंसल, आई0आई0ए0 के सहारनपुर मण्डल चेयरमैन कुशपुर और अधिशासी निदेशक आई0आई0ए0 डी0एस0वर्मा भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *