Tue. Aug 20th, 2019

छात्र कुंवर दिव्याँश सिंह को राज्यपाल ने सम्मानित किया

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक से राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार के लिये चयनित 14 वर्षीय कुंवर दिव्याँश सिंह ने अपनी परिजनों सहित राजभवन में भेंट की। कुंवर दिव्याँश सिंह सेठ एम0आर0 जयपुरिया स्कूल के कक्षा आठवी का छात्र है। राज्यपाल ने उत्तर प्रदेश बाल कल्याण परिषद के पदेन अध्यक्ष के रूप में कुंवर दिव्याँश सिंह को रूपये 10,000 की धनराशि तथा कक्षा दो में पढ़ने वाली उसकी बहन समृद्धि सिंह को रूपये 5,000 की धनराशि सांत्वना पुरस्कार के रूप में देने की घोषणा की।

उल्लेखनीय है कि कुंवर दिव्याँश सिंह अपनी छोटी बहन समृद्धि सिंह के साथ स्कूल से लौट रहा था तो बहन पर सांड ने हमला कर दिया। कुंवर दिव्याँश सिंह बहन को बचाते हुये चोटिल हो गया। हाथ की हड्डी खिसकने के बावजूद कुंवर दिव्याँश सिंह सांड से अपनी बहन का बचाव कर उसे सुरक्षित घर ले आया। इस असाधारण पराक्रम से प्रेरित होकर उत्तर प्रदेश बाल कल्याण परिषद ने राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार के लिये कुंवर दिव्याँश सिंह का नाम राष्ट्रपति को भेजा था। इस वर्ष राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार के लिये उत्तर प्रदेश, उत्तराखण्ड, मध्य प्रदेश एवं बिहार राज्य में केवल उत्तर प्रदेश के कुंवर दिव्याँश सिंह का चयन हुआ है।

कुंवर दिव्याँश सिंह के पिता डाॅ0 धीरेन्द्र बहादुर सिंह डाॅ0 शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय लखनऊ में एसोसिएट डीन हैं तथा माता डाॅ0 विनीता सिंह गंगा गल्र्स पोस्ट ग्रेजुएट कालेज बाराबंकी में असिस्टेंट प्रोफेसर हैं।

इस अवसर पर राज्यपाल के अपर मुख्य सचिव हेमन्त राव, कुंवर दिव्याँश सिंह, समृद्धि सिंह एवं उनके माता-पिता सहित उत्तर प्रदेश बाल कल्याण परिषद की महासचिव रीता सिंह व अन्य लोग भी उपस्थित थे। राज्यपाल ने कुंवर दिव्याँश को पुस्तक ‘ट्रीज आफ उत्तर प्रदेश’, ‘बडर््स आफ राजभवन’ तथा ‘चरैवेति! चरैवेति!!’ की हिन्दी प्रति भेंट की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *