Wed. Jun 26th, 2019

मोदी व योगी सरकार चीनी मिलों के माध्यम फसाने की साजिश कर रही है मायावती


मोदी व योगी सरकार चीनी मिलों के विक्रय के विषय में भी सी.बी.आई. द्वारा जाँच के मामले को भी राजनैतिक रंग दिया जा रहा है और इतने पुराने मामले में
खासकर लोकसभा निर्वाचन के दौरान सी.बी.आई. जाँच की अधिसूचना निर्गत किया जाना यह सी.बी.आई. के दुरुपयोग का स्पष्ट उदाहरण है। यह बात बी.एस.पी. की राष्ट्रीय अध्यक्ष, पूर्व सांसद व पूर्व मुख्यमंत्री उ.प्र. मायावती ने अपनी पार्टी कार्यालय लखनऊ में कही।

उन्होंने कहा कि चीनी मिलों के विक्रय में मुख्यमंत्री के रूप में मेरी कोई भूमिका नहीं थी। मेरे खुद के स्तर से इस विषय में कोई आदेश या निर्णय नहीं किया गया था बल्कि यह फैसला कैबिनेट ने ही लिया था परन्तु मीडिया में इसको बढ़ा-चढ़ा कर पेश कर रही है।
मायावती ने कहा कि इस चुनाव में हमारे यहाँ महागठबन्धन की सफलता तथा इसको मिल रहे अपार जनसमर्थन से बौखला कर ही केन्द्र सरकार द्वारा चुनाव के दौरान यह सब कार्यवाही की गयी है। इस प्रकार से सी.बी.आई. को फिर से यहाँ एक बार तोते की तरह ही इस्तेमाल किया गया है।
उन्होने कहा कि चीनी मिलों की विक्रय की कार्यवाही राज्य की पूर्व की स्थापित नीति के तहत सम्बन्धित विभाग द्वारा की गयी थी। यदि इसकी प्रक्रिया में कोई दोष है तो उसकी जाँच हो सकती है। इसमें हमें कोई एतराज नहीं है। लेकिन अब खासकर चुनाव के समय में ये जान-बूझकर भ्रम फैलाया जा रहा है कि इस मामले में तत्कालीन मुख्यमंत्री के रूप में, मेरी कोई भूमिका थी। यह सरासर गलत और तथ्यों के विपरीत है और हमारे महागठबन्धन की दिन-प्रतिदिन हो रही मजबूती पर इन हथकण्डों से कोई प्रभाव पड़ने वाला नहीं है। सत्य को नहीं दबाया जा सकता। जनता सब समझती है। चुनाव के दौरान यह कार्यवाही करके जनता को भ्रमित किया जा रहा है। जनहित के मुद्दों से भटकाया जा रहा है।
मायावती ने कहा कि चीनी मिलों के विक्रय के सम्बन्ध में आॅडिट आपत्तियों में अथवा लोकायुक्त की रिपोर्ट में भी मुख्यमंत्री के सम्बन्ध में कोई विपरीत टिप्पणी नहीं की गयी है। इससे यह स्पष्ट है कि इस सम्बन्ध में एक सोची-समझी रणनीति व साजिश के तहत् ही केन्द्र सरकार सी.बी.आई. के माध्यम से चुनाव प्रभावित करने के उद्देश्य से ही यह सब कार्यवाही कर रही है जनता को इससे सावधान रहना चाहिये। लेकिन केन्द्र सरकार अपने इस षड्यन्त्र में सफल नहीं होगी और यहाँ उत्तर प्रदेश में महागठबन्धन की जीत सुनिश्चित है। इसे कोई रोक नहीं सकता है और आज चैथे चरण का प्रचार भी बन्द हो गया है और यह चरण भी हमारे गठबन्धन का काफी अच्छा रहेगा। इसी ही प्रकार आगे के चरण भी काफी अच्छे ही रहने वाले हैं।
मायावती ने कहा कि, देश की जनता बहुत बारीकी व गंभीरता के साथ बीजेपी की मोदी सरकार के पाँच वर्षों का आंकलन कर रही है वोट करते समय इस बात को जरूर ध्यान में रखेगी कि यह सरकार जनहित के खास मामलों में खासकर गरीबी, महंगाई, बेरोजगारी के साथ-साथ किसानों, छोटे व्यापारियों व मध्यम वर्ग के हितों की रखवाली के मामलों में बुरी तरह से विफल साबित हुई है और अपनी इन कमियों पर से जनता का ध्यान बांटने के लिए पुलवामा, बालाकोट आदि के मुद्दे जबर्दस्ती उछाल रही है।

मायावती ने कहा कि, देश की जनता बहुत बारीकी व गंभीरता के साथ बीजेपी की श्री मोदी सरकार के पाँच वर्षों का आंकलन कर रही है और वोट करते समय इस बात को जरूर ध्यान में रखेगी कि यह सरकार जनहित के खास मामलों में खासकर गरीबी, महंगाई, बेरोजगारी के साथ-साथ किसानों, छोटे व्यापारियों व मध्यम वर्ग के हितों की रखवाली के मामलों में बुरी तरह से विफल साबित हुई है और अपनी इन कमियों पर से जनता का ध्यान बांटने के लिए पुलवामा, बालाकोट आदि के मुद्दे जबर्दस्ती उछाल रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *