Tue. Dec 10th, 2019

बजट की तैयारियां शुरु

The Union Minister for Finance and Corporate Affairs, Smt. Nirmala Sitharaman chairing the 2nd Pre-Budget consultation meeting with the representatives of Industrial Services & Trade Associations, in New Delhi on June 11, 2019.

The Union Minister for Finance and Corporate Affairs, Smt. Nirmala Sitharaman chairing the 2nd Pre-Budget consultation meeting with the representatives of Industrial Services & Trade Associations, in New Delhi on June 11, 2019.

वित्त मंत्री ने कृषि और ग्रामीण विकास पर पहला बजट पूर्व परामर्श कियाय उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र के आर्थिक और सामाजिक बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देने के उपायों के बारे में बताया। उन्होंने कृषि तथा संबद्ध क्षेत्रों के साथ-साथ गैर-कृषि क्षेत्र के विकास के माध्यम से बेरोजगारी और गरीबी उन्मूलन के तरीकों पर जोर दियाय वित्त मंत्री ने दोहराया कि कृषि क्षेत्र की चिंताए मौजूदा सरकार की उच्च प्राथमिकताओं में शामिल हैं
केन्द्रीय वित्त और कॉरपोरेट मामलों की मंत्री निर्मला सीतारमण ने आगामी आम बजट 2019-20 के संबंध में विभिन्न हितधारकों के साथ बजट पूर्व विचार-विमर्श की शुरुआत की। उनकी पहली बैठक कृषि और ग्रामीण विकास क्षेत्र के हितधारकों के साथ आयोजित हुई।

उद्घाटन संबोधन में वित्त मंत्री ने ग्रामीण क्षेत्र के आर्थिक और सामाजिक बुनियादी ढांचा को बढ़ावा देने के उपायों और कृषि और संबद्ध क्षेत्रों के साथ-साथ गैर-कृषि क्षेत्र के माध्यम से बेरोजगारी और गरीबी उन्मूलन के तरीकों पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि कृषि क्षेत्र की चिंताएं मौजूदा सरकारी की उच्च प्राथमिकताओं में शामिल हैं। वित्त मंत्री ने देश के विभिन्न क्षेत्रों के प्रतिनिधित्व पर जोर दिया ताकि इन क्षेत्रों से संबंधित उनकी विशेष जरूरतों पर भी विचार किया जा सके। उन्होंने कहा कि उनका मंत्रालय समुद्रीय संसाधनों का अधिक से अधिक उपयोग करके नीली क्रांति लाने के लिए मछली पालन क्षेत्र के विभिन्न हितधारकों के साथ व्यापक आधार पर विचार-विमर्श आयोजित करेगा।

निर्मला सीतारमण ने स्टार्टअप्स को प्रोत्साहन देने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि वे कृषि बाजार में विभाजन को रोककर कृषि उत्पादों के लिए लाभकारी बाजार उपलब्ध कराने और कृषि उत्पादों को उचित मूल्य पर अंतिम उपभोक्ता तक आपूर्ति करने में मदद कर सकते हैं। बैठक के दौरान कृषि अनुसंधान और विस्तार सेवाएं, ग्रामीण विकास, गैर-कृषि क्षेत्र, बागवानी, खाद्य प्रसंस्करण, पशुपालन, मछली पालन और कृषि क्षेत्र में स्टार्टअप्स के बारे में विचार-विमर्श किया गया।

वित्त मंत्री के साथ इस बैठक में केन्द्रीय वित्त और कॉरपोरेट मामलों के राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर, नीति आयोग के सदस्य डॉ. रमेश चन्द्र, वित्त सचिव सुभाष सी गर्ग, व्यय सचिव गिरीश चन्द्र मुर्मू, राजस्व सचिव अजय नारायण पांडे, डीएफएस सचिव राजीव कुमार, कृषि और सहकारिता मंत्रालय में सचिव संजय अग्रवाल, ग्रामीण विकास विभाग में सचिव अमरजीत सिन्हा, सचिव (डीएआरई) और महानिदेशक कृषि अनुसंधान परिषद डॉ. त्रिलोचन मोहपात्रा, मुख्य आर्थिक सलाहकार डॉ. के वी सुब्रमनियन, कृषि मंत्रालय में एडीएफ सचिव तरूण श्रीधर, मछली पालन विभाग की सचिव रजनी सेखरी सिब्बल, सीबीडीटी के चेयरपर्सन प्रमोद चन्द्र मोदी तथा वित्त मंत्रालय के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *