Tue. Dec 10th, 2019

गाॅधी जी की 150वीं जयन्ती के अवसर पर ‘‘खादी महोत्सव-2019’’ का आयोजन 02 से

 महात्मा गाॅधी जी की 150वीं जयन्ती के अवसर पर ‘‘खादी महोत्सव-2019’’ का आयोजन दिनांक 02 से 13. अक्टूबर तक इन्दिरा गाॅधी प्रतिष्ठान, गोमती नगर, लखनऊ में आयोजित किया जा रहा है। यह जानकारी खादी एवं ग्रामउद्योग मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने खादी निदेशाल डालीबाग में दी।

उन्होंने बताया कि गत वर्ष 70 स्टाल लगाकर तीन दिवसीय प्रदर्शनी का आयोजन किया गया था, जिसमें 85.00 लाख से अधिक की बिक्री प्रतिभागियों द्वारा की गयी। वर्तमान वर्ष में 100 स्टाल लगाये जा रहे है तथा प्रदर्शनी की अवधि 11 दिन निर्धारित की गयी है जिसमें उ0प्र0 के अतिरिक्त अन्य प्रदेश की इकाइयों द्वारा प्रतिभाग करने के साथ-साथ अपने उत्कृष्ट उत्पादों का प्रदर्शन भी किया जायेगा। इसके अतिरिक्त गत वर्ष की भाॅति इस वर्ष भी खादी तथा ग्रामोद्योगी उत्पादों के प्रचार-प्रसार, एवं जागरूकता तथा बिक्री के उद्देश्य से उ0प्र0 राज्य के 18 मण्डलों में प्रदर्शनियों का आयोजन भी किया जा रहा है।
इस मौके पर खादी एवं ग्रामउद्योग विभाग के प्रमुख सचिव नवनीत सहगल ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में 1000 सोलर चर्खो के सापेक्ष दिनांक 02.10.2019 को महात्मा गाॅधी जी की 150वीं जयन्ती के अवसर पर मा0 मुख्यमंत्री जी के कर-कमलों द्वारा साकेंतिक रूप से 100 चर्खो का वितरण किया जायेगा, जिससे 2269 कामगार लाभान्वित होगें।
उक्त कार्यक्रम में प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के 15 लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र वितरित किये जायेगें। इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना एवं पं0 दीनदयाल ग्रामोद्योग रोजगार योजना के 15-15 लाभार्थियों को चेक भी प्रदान किये जायेगे। उक्त अवसर पर देश एवं राज्यों से आये विशेष गणमान्य अतिथियों द्वारा खादी तथा ग्रामोद्योगी विषय पर विशेष व्याख्यान एवं कार्यशाला का आयोजन भी किया जायेगा।
नवनीत सहगल ने बताया कि खादी तथा ग्रामोद्योगी क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली इकाइयों की सफलता की कहानी से सम्बन्धित फिल्म का प्रदर्शन भी किया जायेगा। दिनांक 12.10.2019 को सायं काल में खादी के आधुनिक परिधानों का भब्य फैशन-शो आयोजित किया जायेगा, जिसमें निफट व देश-विदेश में ख्याति प्राप्त फैशन डिजाइनरों द्वारा तैयार किये गये परिधानों का प्रदर्शन फेमिना मिस इण्डिया, नई दिल्ली से आये माडलों द्वारा किया जायेगा।
नवनीत सहगल ने बताया कि प्रशिक्षण योजनान्तर्गत कौशल सुधार प्रशिक्षण योजना (सामान्य/एस0सी0एस0 पी0/टी0एस0पी0/व्यवहारिक) वर्ष 2019-20 में शासन से प्राप्त धनराशि रू 455.00 लाख में से 8,521 प्रशिक्षार्थियों को विभागीय योजनाओं का प्रशिक्षण प्रदान करने का लक्ष्य है। इसमें सोलर चर्खा पर लाभार्थियों को प्रशिक्षित किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *