Tue. Dec 10th, 2019

छोटे उद्यमियों को ऋण दिलाने में बैकर्स भी करें सपोर्ट-डा0 नवनीत सहगल

प्रदेश को वन ट्रिलियन इकानाॅमी बनाने में एम0एस0एम0ई0 की होगी महत्वपूर्ण भूमिका
क्लस्टर के तहत इंडस्ट्री को प्रमोट करने की योजना पर हो रहा तेजी से काम

क्लस्टर के तहत इंडस्ट्री को प्रमोट करने की योजना बनाई जा रही है। यह बात‘‘उ0प्र0 में एम0एस0एम0ई0 पारितन्त्र के सुदृढ़ीकरण के लिए आयोजित आउटरीच कार्यक्रम में प्रमुख सचिव, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम डा0 नवनीत सहगल ने खादी भवन में कही।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में एम0एस0एम0ई0 को ऋण वितरण उतनी नहीं हो रहा, जितनी आवश्यकता है। इसके लिए उन्होंने बैकर्स से आह्वान किया कि वे आगे आकर छोटे उद्यमियों को सपोर्ट करें।

उन्होंने कहा कि प्रदेश को वन ट्रिलियन इकानाॅमी बनाने में एम0एस0एम0ई0 की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। राज्य सरकार की महात्वाकांक्षी योजना ओ0डी0ओ0पी0 को बढ़ावा देने के लिए हर जिले में कन्सलटेंट के माध्यम से रिसर्च कराया जा रहा है। इनके रिपोर्ट के आधार पर एक्शन प्लान बनाया जायेगा। पारंपरिक उत्पादों को वैश्विक पहचान दिलाने के लिए ई-कामर्स संस्थाओं के साथ समझौता किया गया है। साथ ही निर्यात को बढ़ावा देने के लिए एक्सपोर्ट यूनिट को अमेजन से जोड़ा गया है। साथ ही ओ0डी0ओ0पी0 उद्यमियों को आगे बढ़ाने के लिए टेक्निकल सपोर्ट भी दिया जा रहा है। प्रमुख सचिव ने कहा कि प्रदेश में बीमार इकाइयों को पुर्नस्थापित करने के लिए सहायता योजना शुरू की गई है। पालिसी में भी इसके लिए अलग से प्राविधान किये जायेंगे।
आयुक्त एवं निदेशक, लघु उद्योग गौरव दयाल ने कहा कि प्रदेश में उद्यमियों को ऋण प्राप्त करने में दिक्कतें आ रही हैं। लगातार इस संबंध में शिकायतें भी प्राप्त हो रही हैं। बैंकर्स सरकार की मंशा के अनुरूप उद्यमियों को ऋण दिलाने में विशेष रूचि लें। साथ ही ऋण के स्वीकृति होने एवं धनराशि जारी करने में लगने वाले समय को भी कम करने की आवश्यकता है।
कार्यक्रम में प्रबंध निदेशक, बैंक आफ बड़ौदा रामजस यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में 90 लाख एम0एस0एम0ई0 वर्तमान में संचालित हैं। इनके माध्यम राज्य में 39.25 लाख नये रोजगार का सृजन भी हुआ है। कार्यक्रम में सिडबी सहित अग्रणी बैंको के बैकर्स मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *