निरीक्षण में किसी भी प्रकार की अव्यवस्था सामने आने पर सम्बंधित के खिलाफ होगी कार्रवाई सुरेश कुमार खन्ना

जनपद प्रभारी मंत्री सुरेश कुमार खन्ना की अध्यक्षता में हुई जिला योजना समिति की बैठक
सुरेश कुमार खन्ना ने बैठक में 42 बिंदुओं के लिए प्रस्तावित परिव्ययो
पर की गहन समीक्षा
-राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार
महिला कल्याण तथा बाल विकास एवं पुष्टाहार मंत्री स्वाति सिंह भी बैठक में रही उपस्थित
वृक्षारोपण, पेयजल व स्कूलो की बाउंड्री से सम्बंधित कार्यो को प्राथमिकता के आधार पर किये जाने के निर्देश
जनप्रतिनिधियों द्वारा बैठक में उठाई गई सभी समस्याओं का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण एक सप्ताह के भीतर सुनिश्चित करने के निर्देश
प्रभारी मंत्री ग्रामीण क्षेत्रों का 2 फरवरी के बाद स्वयं करेंगे निरीक्षण

प्रदेश के संसदीय कार्य एवं चिकित्सा शिक्षा, वित्त तथा लखनऊ के प्रभारी मंत्री सुरेश कुमार खन्ना की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जिला योजना समिति की बैठक आहूत की गई। बैठक में महिला कल्याण तथा बाल विकास एवं पुष्टाहार राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) स्वाति सिंह, सांसद मोहनलालगंज कौशल किशोर, विधायक सुरेश श्रीवास्तव, जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश, मुख्य विकास अधिकारी मनीष बंसल, अपर जिलाधिकारी ट्रांस गोमती विश्व भूषण मिश्रा, परियोजना अधिकारी ग्राम्य विकास, मुख्य चिकित्सा अधिकारी नरेंद्र अग्रवाल, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी, जिला उद्यान अधिकारी, डी0सी0 एन आर एल एम, जिला समाज कल्याण अधिकारी, बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, अन्य विभागीय अधिकारी व जनप्रतिनिधियों द्वारा प्रतिभाग किया गया।
प्रभारी मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने समस्त अधिकारियों को निर्देश दिया कि वृक्षारोपण, पेयजल व स्कूलों की बाउंड्री से सम्बंधित कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर किया जाए। साथ ही उन्होंने निर्देश दिया कि व्यक्तिगत रूप से जो भी समसयाएं जनप्रतिनिधियों द्वारा बैठक में उठाई गई है, उन सभी समस्याओं का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण एक सप्ताह के भीतर सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि 2 फरवरी के बाद से उनके द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों का निरीक्षण किया जाएगा यदि निरीक्षण में किसी भी प्रकार की अव्यवस्था सामने आती है तो सम्बंधित की जिम्मेदारी तय की जाएगी। अध्यक्ष महोदय द्वारा बताया गया कि प्रत्येक रविवार को जनपद की समस्त पर स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य मेले में जनप्रतिनिधियों को अवश्य बुलाएं।
समिति के अध्यक्ष श्री सुरेश कुमार खन्ना ने जिला योजना समिति की बैठक में 42 बिंदुओं के लिए प्रस्तावित परिव्ययों पर गहन समीक्षा की। वर्ष 2020-21 के लिए कुल 43696.00 लाख के परिव्य्य का प्रस्ताव किया गया है। जिसमे 17630.59 लाख पूंजीगत और 26065.41 लाख राजस्व के मद में है।
बैठक में कृषि क्षेत्र हेतु 6409.95 लाख के परिव्यय का प्रस्ताव किया गया है। जिसमे कृषि विभाग को तिलहनी फसलों को प्रोत्साहित करने हेतु राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन योजनांतर्गत वर्ष 2020-21 के लिये 26 लाख के परिव्यय का प्रस्ताव किया गया है। लघु एवं सीमांत कृषकों की सहायता हेतु 501.50 लाख, निजी लघु सिंचाई हेतु 2992.44 लाख, पशुपालन हेतु 320 लाख, दुग्ध विकास हेतु 1096.67लाख, जनपद की सहकारी समितियों के जर्जर गोदामों की मरम्मत व बाउंडरी वाल के निर्माण हेतु 1233.34लाख और राजकीय लघु सिंचाई हेतु 240 लाख के परिव्वय का प्रस्ताव किया गया।
वनीकरण हेतु 1340.09 लाख के परिव्यय का प्रस्ताव किया गया है। जिसमंे शहरी समाजिक वानिकी के अंतर्गत विभिन्न मार्गो के किनारे 5000 ट्री गार्ड मय पौधरोपण, 120 ब्रिकग्राद हेतु 167.55 लाख व ग्रामीण क्षेत्रों में सामाजिक वानिकी के अंतर्गत 1172.54 लाख के परिव्वय का प्रस्ताव किया गया है। श्री सुरेश कुमार खन्ना द्वारा बताया गया कि प्रदूषण से छुटकारा पाने के लिये वृक्षारोपण अतिमहत्वपूर्ण है। साथ ही उन्होंने निर्देश दिया कि समस्त स्थलों पर वृक्षारोपण ट्री गार्ड के साथ किया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि वृक्षारोपण के साथ वृक्षों पर नम्बरिंग भी की जाए जिससे उनकी मॉनिटरिंग भी कराई जा सकें। इसी क्रम में विधायक श्री सुरेश श्रीवास्तव द्वारा 1000 पौधों, सांसद मोहनलालगंज ने 5000 पौधों और मंत्री श्रीमती स्वाति सिंह ने 1000 पौधे लगाने का आश्वासन दिया।
अध्यक्ष महोदय द्वारा बताया गया कि ग्रामीण स्वच्छता हेतु 470.52 लाख के परिव्यय का प्रस्ताव किया गया है। उन्होंने बताया कि ग्रामीण स्वच्छता के अंतर्गत गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले 3921 परिवारों के लिए स्वच्छ शौचालयों का निर्माण कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि साफ सफाई के लिए जितने भी संसाधन है सब का उपयोग कराया जाए और ग्रामीण क्षेत्रों को स्वच्छ बनाया जाए।
रोजगार सृजन हेतु 6010.32 लाख के परिव्यय का प्रस्ताव किया गया है। मनरेगा के अंतर्गत 19.90 लाख मानव दिवस रोजगार सृजित करने हेतु कुल 6010.32 लाख का परिव्यय प्रस्तावित है, जिसमंे केन्द्रांश के रूप में 5409.29 लाख व राज्यांश के रूप में 601.03 लाख का प्रस्ताव है।
शिक्षा हेतु 12462.90 लाख के परिव्यय का प्रस्ताव किया गया है। जिसमें मिड डे मील योजना के अंर्तगत मेनू के अनुसार भोजन उपलब्ध कराने हेतु 2415.17 लाख, सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत जनपद में शिक्षा मित्र, अनुदेशक एवं अन्य को मानदेय हेतु 5500.00 लाख, जनपद के अंतर्गत 17 राजकीय विद्यालयों के अधूरे कार्यो एवं फर्नीचर उपकरण उपलब्ध कराने हेतु 139.40 लाख, शिक्षक/कर्मचारियों के वेतन हेतु 2348.50 लाख, विद्यालय विकास अनुदानध्ट्रेनिग, विविध कार्यक्रम हेतु 42.65 लाख, पालीटेक्निक भवनों में कैफेटेरिया, आफिस, उपकरण, लैब हेतु 167.18 लाख, राजकीय पालीटेक्निक परिसर के अंदर सीवर लाइन हेतु 527.44 लाख, राजकीय पालीटेक्निक व महिला पालीटेक्निक में उपकरण एवं फर्नीचर हेतु 46.56लाख, आई0आई0टी0 अलीगंज, चारबाग, मोहनलालगंज एवं मलिहाबाद के आधुनिकीकरण हेतु 510.00 लाख एवं राजकीय औधोगिक संस्थान चारबाग, मलिहाबाद, विश्व बैंक एवं अलीगंज के भवन निर्माण हेतु 640.लाख रुपए के परिव्वय का प्रस्ताव किया गया।
इसके साथ ही परिवहन हेतु 7864.74 लाख, समाजिक सुरक्षा हेतु 2332.90 लाख, स्वास्थ्य सेवाओं हेतु 3553.63 लाख, पेयजल हेतु 1053.68 लाख व अन्य योजनाओं हेतु 2197.27 लाख के परिव्वय का प्रस्ताव किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *