Fri. Feb 21st, 2020

मतदान हमेशा सोच समझकर करना चाहिए क्योंकि गलत मतदान करने से विकास नही- आनंदीबेन पटेल


राज्यपाल ने लोक सभा सामान्य निर्वाचन-2019 में
उल्लेखनीय योगदान के लिए अधिकारियों को सम्मानित किया
राज्यपाल ने राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर शपथ दिलायी

मतदान करना हमारा नैतिक कत्र्तव्य है। इसका प्रयोग सोच समझकर करना चाहिए क्योंकि गलत मतदान करने से राज्य व क्षेत्र का विकास नहीं हो सकता। यह बात राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में लोक सभा सामान्य निर्वाचन-2019 में उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान में कही।
उन्होंने कहा कि पहले की अपेक्षा अब हो रहे चुनाव में काफी बदलाव आया है। पहले जहां 33 से 40 प्रतिशत मतदान होता था, वहीं अब 80 प्रतिशत तक होने लगा है। यह लोकतंत्र के लिए शुभ संकेत है। उन्होंने कहा कि खुशी की बात है कि मतदान में महिलाओं का भी प्रतिशत बढता जा रहा है। पहले की अपेक्षा अब महिलाएं बढ-चढ़कर मतदान में हिस्सा ले रही हैं। महिलाएं न केवल मतदान कर रही हैं, बल्कि वे चुनाव-प्रचार में भी सक्रिय रूप से भाग ले रही हैं जो इस बात का संकेत है कि उनमें मतदान एवं इसके महत्व के बारे में जागरूकता आयी है। उन्होंने कहा कि मतदान जागरूकता के सम्बन्ध में बच्चों द्वारा लगायी गयी प्रदर्शनी और उनके बातचीत से यह परिलक्षित होता है कि युवा वर्ग चुनाव में मतदान के प्रति वे कितने जागरूक हैं।
राज्यपाल ने कहा कि मतदाता जागरूकता सम्बन्धी निरन्तर चलते रहने वाले कार्यक्रमों के परिणाम स्वरूप आम मतदाताओं में जागरूकता बढ़ी है। हमें शत-प्रतिशत मतदान के लिए प्रयास करना होगा और इसके लिए यह आवश्यक है कि शहर से लेकर गांव स्तर तक जागरूकता कार्यक्रम चलाया जाय और उन्हें मतदान के महत्व को समझाते हुए निडर होकर बिना किसी प्रलोभन में आये मतदान के लिए उत्प्रेरित किया जाय।
इससे पहले राज्यपाल ने मतदाता दिवस के अवसर पर उपस्थित लोगों को मतदाता शपथ दिलायी एवं पहली बार मतदाता बने 5 युवा मतदाता को मतदाता पहचान पत्र उनके हाथों में सौंपा।
चुनाव प्रबंधन के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान देने वाले अधिकारियों को प्रशस्ति-पत्र एवं स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।
इस अवसर पर मुख्य सचिव आर0के0 तिवारी, राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार, मुख्य निर्वाचन अधिकारी ए0के0 शुक्ला एवं मण्डलायुक्त मुकेश मेश्राम के अलावा वरिष्ठ अधिकारी व गणमान्य लोगों के साथ ही बड़ी संख्या में विभिन्न स्कूलों के बच्चे मौजूद थे।.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *