Fri. Feb 21st, 2020

सोलर के साथ ई-व्हीकल की प्रर्दशर्नी लखनऊ में पहली बार

  • सोलर के साथ ई-विहकल की प्रर्दशर्नी लखनऊ में पहली बारसोलर एवं बिजली चलित वाहनो की सबसे बड़ी प्रदर्शनी 14 फरवरी से लखनऊ में।
  • 14 फरवरी से प्रारम्भ सोलर एवं ई-व्हीकल एक्सपो में इस बार रिकार्ड नामी गरामी कम्पनियों का प्रदर्शन
  • सोलर एवं ई-व्हीकल क्षेत्र में व्यवसाय स्थापित करने का सुनहरा अवसर।
  • 14 फरवरी से आयोजित होने वाले सोलर एवं ई-व्हीकल एक्सपो में अनेक नये उत्पादों एवं टैक्नोलाॅजी का प्रदर्शन।
  • सोलर प्लाॅट लगाने एवं बिजली चलित वाहन खरीदने के इच्छुक व्यक्तियों के लिये 14 फरवरी से उत्तर भारत की सबसे बड़ी प्रदर्शनी लखनऊ में।

14 से 16 फरवरी 2020 तक तीन दिवसीय उत्तर भारत की सबसे बड़ी सोलर एवं ई-व्हीकल प्रदर्शनी लखनऊ में इण्डियन इण्डस्ट्रीज एसोसिएशन (आई0आई0ए0) द्वारा यूपीनेडा, यूपीएसआरटीसी एवं नई और नवीकरण ऊर्जा मंत्रालय भारत सरकार के सहयोग से आयोजित की जा रही है इस प्रदर्शनी में पूरे देश की 70 से अधिक सोलर एवं ई-व्हीकल कम्पनियाॅ अपने उत्पादन और टेक्नोलाॅजी का प्रदर्शन करेगें।

इस बार प्रदर्शनी में खास बात यह है कि इसमें अनेक नये उत्पादों का समावेश है जैसे इलैक्ट्रिक कार, हाईड्रोजन फयूल से चलने वाली कार का वर्किग माॅडल, वाॅटर हीटिंग के लिए हाईब्रिड गीजर, सोलर एवं ई-व्हीकल में उपयोग होने वाली उन्नत बैटरियाॅ, बिल्डिंगो में उपयोग होने वाली उन्नत बैटरियाॅ, बिल्डिगों में लगने वाले शीशे की जगह सोलर पैनल, गुणवत्तापरक सोलर पैनल एवं इन्वर्टर इत्यादि।

देश में सोलर पावर एवं ई-व्हीकल के उपयोग में एक बाधा वैटरी की गुणवत्ता एवं उसकी कीमत रही है। इस बाधा को दूर करने के उपाय भी इस एक्सपो में आगन्तुको को मिलेगे। एक अनुमान के अनुसार वर्ष 2024 तक देश में लगभग 45 प्रतिशत वाहन बिजली चालित होगे। ऐसे में इन वाहनों में बैटरी अथवा बिजली पैदा करने की तकनीक का बहुत बड़ी भूमिका है। स्टोरेज वैटरियो के अतिरिक्त हाईड्रोजन फ्यूल सैल एवं एल्यूमिनियम फ्यूल सैल का उपयोग भी विकसित देशों में वाहन चालन के लिए हो रहा है। खुशी की बात है कि उत्तर प्रदेश के दो नवयुवको ने बैंग्लोर में स्थित अपने स्टार्टअप में एल्यूमिनियम फ्यूल सैल की तकनीक का आविष्कार देश में ही कर लिया है और इससे सफलतापूर्वक कार का संचालन भी कर रहे हैं। वे 14 फरवरी को के दौरान आयोजित होने वाले सेमीनार में अपने टैक्नोलाॅजी के बारे में विस्तार से बताएगे।

ई-व्हीकल संचालन के लिए बड़ी मात्रा में चार्जिग स्टेशनों की आवश्यकता होगी। यह भी प्रयास है कि इन चार्जिग स्टेशनों को सौर-ऊर्जा से चलाया जाए ताकि इसमें परम्परागत बिजली की आवश्यकता न रहे। इस विषय पर भी एक्सपो में सेमीनार के दौरान विचार-विमर्श किया जाएगा।

Preview YouTube video सोलर के साथ ई-विहकल की प्रर्दशर्नी लखनऊ में पहली बार

14 फरवरी 2020 को प्रातः 10.00 बजे से साॅय 5.30 बजे तक ‘‘ई-व्हीकल बैटरी टैक्नोलाॅजी एवं चार्जिग स्टेशन‘‘ पर समानान्तर सेमीनार आयोजित होगा जिसके उद्घाटन के लिए परिवहन मंत्री उ0प्र0 श्री अशोक कटारिया को आमंत्रित किया गया है। सेमीनार को देश के नामीगरामी विशेषज्ञ सम्बोधित करेगें जिसमें सीकरी तमिलनाडू से डा0 कुलदीप कुमार काकरन, पुणे से डा0 प्रकाश बड़जातिया, दिल्ली से श्री परवीन सूद, बंग्लौर से श्री अंशुल कुमार शर्मा, टाटा मोटर से श्री जीशान रजा, इलेक्ट्राॅनिक सेक्टर स्क्लि काॅउसिल आॅफ इण्डिया दिल्ली से डा0 देवराज सिंह एवं लखनऊ से प्रा0 ऊषा बाजपाई प्रमुख है। इस सेमीना में ई-व्हीकल के बारे में सम्पूर्ण जानकारियाॅ उपलब्ध होगी। यह सेमीनार ई-व्हीकल खरीदने वालो, बनाने वालो तथा इस क्षेत्र में उद्योग स्थापित करने के इच्छुक व्यक्तियों के लिए बहुत लाभदायक होगा तथा लखनऊ में एक सुनहरा मौका होगा। इस प्रकार का अवसर दोबार निकट भविष्य में मिलना दुर्लभ होगा।

15 फरवरी 2020 को भी प्रातः 10 बजे से साॅय 5.30 बजे तक नेशनल सोलर काॅन्क्लेव का आयोजन प्रदर्शनी के साथ-साथ किया जाएगा। इस काॅन्क्लेव के उद्घाटन के लिए मा0 ऊर्जा एवं अतिरिक्त ऊर्जा श्रोत मंत्री उ0प्र0 श्री श्रीकान्त शर्मा को आमंत्रित किया गया है। इस काॅन्क्लेव में सोलर पावर सेक्टर में निवेश की सम्भावनाओं, नई तकनीकों एवं उत्पादों, सोलर पावर प्लाॅट की गुणवत्ता एवं रखरखाव, बैकांे से धन उपलब्धता, सोलर पावर प्लाॅट के लिए काॅस्ट-बेनिफिट पर जानकारी इत्यादि, विषयों पर विस्तार से जानकारियाॅ एवं चर्चाए होगी। इन सभी विषयों को बताने के लिए देश के शीर्ष विशेषज्ञ अपने प्रेजेन्टेशन देगें एवं सवालों के उत्तर देगे। मुख्य वक्ताओं में नेशनल इंस्टीट्यूट आॅफ सोलर एनर्जी के डा0 योगेश कुमार सिह, लखनऊ यूनीवर्सिटी की पूर्व प्रोफेसर डा0 ऊषा बाजपाई, अदानी गु्रप में सलाहकार श्री अभिलाख सिंह, बरेजा सोलर दिल्ली के प्रबन्ध निदेशक श्री अनिल बरेजा, यूपीनेडा के डायरेक्टर श्री भवानी सिंह खंगरौट, ईजी सोलर के निदेशक श्री लोकेश वत्स, नवीकरणीय ऊर्जा के प्रतिष्ठित सलाहकार डा0 एस0सी बाजपाई, सनलैण्ड एनर्जी प्रा0लि0 के निदेशक श्री विकास गुप्ता, यूको बैक के जोनल हैड श्री ओ0पी0 वर्मा, सिडबी एवं अन्य प्रतिष्ठित कम्पनियो के प्रतिनिधि शामिल होगें। यह सोलर काॅन्क्लेव भी लखनऊ में साल में एक बार ही आयोजित होती है। अतः इसे भी उद्यमियों, सोलर पावर प्लाॅट लगाने वालो अथवा जिन्होने लगा लिए है उनको, किसानो और अन्य सभी को अवश्य अटेैण्ड करना चाहिए। इस काॅन्क्लेव मे 1 फरवरी को घोषित केन्द्रीय बजट में किसानो की आय बढ़ाने के लिए बंजर भूमि पर सोलर प्लांट लगाने तथा सोलर वाॅटर पम्प लगाने हेतु सम्पूर्ण जानकारियाॅ दी जाएॅगी जिसके लिए सरकार ने कुसुम योजना लागू की है।

इण्डिया सोलर एवं ई-व्हीकल एक्सपो का उद्घाटन 14 फरवरी 2020 को अपराहन 12.30 बजे माननीय ऊर्जा एवं अतिरिक्त ऊर्जा मंत्री उ0प्र0 श्री श्रीकान्त शर्मा, माननीय सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री, उ0प्र0 श्री सिद्वार्थनाथ सिंह तथा परिवहन मंत्री उ0प्र0 श्री अशोक कटारिया द्वारा किया जाएगा। उद्घाटन के अवसर पर प्रमुख सचिव एवं चेयरमैन यूपीएसआरटीसी, प्रमुख सचिव एव ंचेयरमैन यूपीनेडा, प्रबन्ध निदेशक यूपीएसआरटीसी तथा डायरेक्टर यूपीनेडा भी उपस्थित रहेगें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *