Fri. May 29th, 2020

स्पीड पोस्ट के माध्यम से दवाओं की डिलीवरी

 

संचार, कानून और आईटी मंत्री। रविशंकर प्रसाद ने सचिव पदों को निर्देश दिया है कि लॉक पोस्ट के दौरान स्पीड पोस्ट के माध्यम से दवाओं की डिलीवरी को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाए। उन्होंने आगे निर्देश दिया है कि डाक विभाग के सभी कर्मचारियों को संवेदनशील बनाया जाता है ताकि किसी को भी लॉकडाउन के दौरान दवा प्राप्त करने या भेजने में कठिनाई का सामना न करना पड़े। देश भर में संपूर्ण डाक नेटवर्क इस उद्देश्य के लिए जस्ती है। इंट्रा राज्य और अंतरराज्यीय मेल व्यवस्था के उद्देश्य से किए गए हैं। प्रतिष्ठित लाल मेल वैन और सड़क परिवहन नेटवर्क आवश्यक दवाओं, कोविद 19 परीक्षण किटों, वेंटिलेटर सहित चिकित्सा उपकरणों के वितरण के लिए बिंदु में तुर्क सेवा प्रदान कर रहे हैं। समय पर डिलीवरी सुनिश्चित करने के लिए परिचालन कार्गो उड़ानों और विशेष पार्सल ट्रेनों के साथ मेल की व्यवस्था भी की जा रही है। इंडियन ड्रग मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन, स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय और ऑनलाइन दवा कंपनियों के साथ टाई-अप में हजारों दवाओं और चिकित्सा उपकरणों का वितरण किया जा रहा है। अस्पतालों और व्यक्तिगत ग्राहकों के द्वार पर दवाओं की समय पर डिलीवरी सुनिश्चित करने के लिए डाक अधिकारी और कर्मचारी देश भर में काम कर रहे हैं।

संचार मंत्री  रविशंकर प्रसाद ने डाक विभाग के सचिव से स्पीड पोस्ट के जरिये दवाओं की उपलब्धता को सर्वोच्च प्राथमिकता सुनिश्चित करने के लिए कहा
केंद्रीय संचार, न्याय और विधि, इलेक्ट्रोनिक्स और सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्री श्री रविशंकर प्रसाद ने डाक विभाग के सचिव को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि लाकडाउन के दौरान स्पीड पोस्ट के जरिये दवाओं की उपलब्धता को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाए। संचार मंत्री ने आज एक ट्वीट में साझा किया कि भारतीय डाक के सभी कर्मचारियों को सेंसिटाइज किया जाए ताकि किसी को भी दवाओं को भेजने या प्राप्त करने में किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना न करना पड़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *