Thu. May 28th, 2020

कोविड – 19 महामारी से बचाव के लिए जोशांदा का मुफ्त वितरण

 

लखनऊ के विभिन्न क्षेत्रों में पिछले 10 दिनों से कोरोना से लड़ने के लिए प्रथम पंक्ति में काम कर रहे पुलिसकर्मी, मेडिकल स्टाफ, मीडिया तथा सफाई कर्मियों में यूनानी दवा अर्क अजीब और जोशांदा चूर्ण का नेशनल यूनानी डॉक्टर्स वेलफेयर एसोसिएशन ने वितरण किया जा रहा है ।

इसी क्रम में नुडवा का एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर मुईद अहमद, राष्ट्रीय महासचिव डॉ एसएस अशरफ तथा पूर्व उपनिदेशक यूनानी सेवाएं उत्तर प्रदेश, डॉक्टर आफताब अहमद हाशमी के साथ उत्तर प्रदेश के माननीय आयुष मंत्री धर्म सिंह सैनी से मुलाकात कर जोशांदा चूर्ण तथा अर्क अजीब का सैंपल पेश कर औषधि वितरण की विस्तार से जानकारी दी।
मांनीय मंत्री ने संगठन की प्रशंसा की तथा अपनी शुभकामनाएं दी एवं उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों में भी इस तरह का कार्य करने की अपील की ।

नुडवा के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर मुईद अहमद ने मंत्री जी का ध्यान आकर्षित करवाया कि हाल ही में आयुष विभाग द्वारा कोविड – 19 पर रिसर्च के लिए तैयार प्रस्ताव में यूनानी विधा को शामिल नहीं किया गया है जिसके परिणाम स्वरूप आईसीएमआर ने विज्ञापन जारी किया है।
आयुष के एक मुख्य घटक के तौर पर यूनानी विधा को शामिल नहीं किया गया है तथा श्री सैनी से अनुरोध किया कि केंद्र सरकार के संज्ञान में लाकर प्राचीन तथा प्रासंगिक यूनानी विधा को कोविड रिसर्च प्रस्ताव एवम् आईसीएमआर के उक्त विज्ञापन में शामिल कर मुख्यधारा से जोड़ने की कृपा करें जिससे आम जनमानस तथा यूनानी चिकित्सक लाभान्वित हो सके।

डॉ आफताब अहमद हाशमी ने कहा कि आयुष विभाग उत्तर प्रदेश द्वारा आयुष कवच ऐप जारी करना एक सराहनीय कदम है परंतु यहां पर भी यूनानी विधा को जगह ना मिल पाना चिंता का विषय है आयुष कवच ऐप से युनानी सिस्टम को जोड़कर यूनानी चिकित्सकों तथा आम जनमानस की भावनाओं का ख्याल किया जाए जिस पर मुख्यमंत्री ने उचित कार्यवाही करने का आश्वासन दिया।.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *